फोंडेक्स ट्रेडिंग की स्थिति

आरओआई क्या है?

आरओआई क्या है?

सर्वश्रेष्ठ गृह ऋण प्रस्ताव प्राप्त करने के लिए 9 टिप्स

उधार बाजार में कई व्यापारियों के पास है जो आपको एक घर ऋण देने के लिए काफी इच्छुक हैं। जो पहले आने वाला है, उसके लिए मत आना। एक होम लोन एक दायित्व है। लेकिन यह आपके जीवन का सबसे बड़ा निवेश करने के लिए आवश्यक हो सकता है - आपका सपना घर अपने स्वयं के लिए सर्वोत्तम गृह ऋण सौदा को शॉर्टलिस्ट करने के लिए बाजार का अध्ययन करते समय सावधानी से चलें मकानीक्यू आपको सर्वश्रेष्ठ गृह ऋण सौदा पाने के लिए नौ युक्तियां देता है। सस्ता सबसे अच्छा नहीं हो सकता है सबसे सस्ता दर (आरओआई) के साथ होम लोन जरूरी सबसे अच्छा सौदा नहीं है। प्रतिस्पर्धी दरों के साथ होम लोन देखें, और फिर इसमें शामिल लागतों पर विचार करें। गृह ऋण के अन्य पहलुओं को भी देखें फिर सबसे अच्छा सौदा के लिए व्यवस्थित करें उदाहरण के लिए, कुछ उधारदाताओं के रूप में वे चाहते हैं कि कई ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए शुरू में एक टीज़र रेट पेश कर सकते हैं ऐसे उधारकर्ता मूल्यांकन प्रक्रियाओं के लिए बहुत अधिक शुल्क और शुल्क ले सकते हैं। इस अर्थव्यवस्था में फ्लोटिंग रेट बेहतर हो सकती है निश्चित होम लोन ब्याज दर फसल के लिए गिरावट न करें। उतार-चढ़ाव के उधार बाजार में तय और स्थाई आवाज क्या तय नहीं की जा सकती। होम लोन ब्याज दर कई खंडों के साथ आता है निश्चित रूप से फ्लोटिंग ब्याज दर को हमेशा चुनें, भले ही बाद में एक आकर्षक सौदे की तरह हो। ऋण शुरू करने से पहले ईएमआई की गणना करें यह आपके होम लोन है, और आपको यह तय करने की आवश्यकता है कि आप किस तरह के होम लोन उत्पाद चाहते हैं। अपनी खुद की गणना करें और पता करें कि आपको गृह ऋण को चुकाने के लिए प्रत्येक माह अलग-अलग सेट करना कितना खर्च कर सकता है आँख बंद करके चुनाव न करें, अपने परिवार / मित्रों द्वारा क्या कहें। एक बेहतर तस्वीर के लिए समझौते को पढ़ें होम लोन वेबसाइट्स आपको सामान्य जानकारी देते हैं, अधिकतर डॉस और डॉनट्स। लोन एग्रीमेंट आपको बेहतर तस्वीर देता है सुनिश्चित करें कि आप लाइनों के बीच पढ़ते हैं सभी छुपा आरोप और खंड के बारे में इतने खुले तौर पर बात नहीं करते हैं, सभी का उल्लेख घर के ऋण समझौते की रेखाओं के बीच कहीं है। लोन ऑफिसर के साथ अपने संदेह को साफ करने में संकोच न करें। प्री-अनुमोदित ऋण समय की बचत करने में मदद करते हैं गृह ऋण का पूर्व-अनुमोदन वास्तव में मदद करते हैं। यहां तक ​​कि अगर आपने संपत्ति को अंतिम रूप नहीं दिया है, तो आपको अपने गृह ऋण को पूर्व-मूल्यांकन करके अस्थायी मंजूरी पत्र मिलना चाहिए। यह आपको घर ऋण प्राप्त करने की औपचारिक प्रक्रिया से बहुत परिचित करेगा अपनी संपत्ति के बाजार मूल्य को जानने के लिए वैल्यूएटर की मदद लें। ऋणदाता से संपर्क करने से पहले हमेशा वित्तीय विशेषज्ञ / कानूनी / तकनीकी वैल्यूएटर की सलाह लें। उदाहरण के लिए, ज्यादातर उधारदाताओं संपत्ति के बाजार मूल्य का 80 प्रतिशत तक केवल फंड करते हैं। आप कुछ तकनीकी विशेषज्ञों द्वारा अपनी संपत्ति का तकनीकी मूल्यांकन प्राप्त कर सकते हैं और बाजार में अपनी संपत्ति के वर्तमान मूल्य का आकलन कर सकते हैं। यह आपको उस राशि का एक विचार देगा जो आप के आरओआई क्या है? लिए पात्र हैं, और आखिरकार आपको सर्वोत्तम संभव गृह ऋण सौदे प्राप्त करने में मदद करेंगे। नई योजनाओं को देखने में संकोच न करें नई होम लोन योजनाओं और उत्पादों का पता लगाने की कोशिश करें जो कि आपको पैसे बचाने में मदद कर सकते हैं। उधारकर्ता उधारदाताओं से उधार लेने से बेहतर काम कर सकते हैं जो क्लिचड वेनिला होम लोन प्रदान करते हैं उदाहरण के लिए, ब्याज Savers! ब्याज-सेवर गृह ऋण आपके होम लोन खाते को फ्लेक्सी चालू खाता से जोड़ता है जो ऑपरेटिव चालू खाता (यानी फ्लेक्सी चालू आरओआई क्या है? खाता) आरओआई क्या है? में खड़ी अधिशेष धन की सीमा तक आपके होम लोन की ब्याज देयता को नीचे लाता है। अच्छी पोस्ट बिक्री सेवा के साथ उधारदाताओं के लिए देखें होम लोन एग्रीमेंट एक 30 साल का अनुबंध है तो, सर्वोत्तम गृह ऋण सौदे पर काम करते समय सेवा पहलू को भी ध्यान में रखें। आपके गृह ऋण को चुकाए जाने के बाद भी आपको ऋणदाता की मदद या सलाह की आवश्यकता हो सकती है। इसलिए, बिक्री के बाद सेवा को भी मत भूलना त्वरित ऋण अनुमोदन आपको कानूनी परेशानियों से बचा सकता है क्या आप चाहते हैं कि आपका डेवलपर आपको देरी-जुर्माना नोटिस भेज सके? बिलकूल नही यही कारण है कि आपको अपने होम लोन आवेदन पर कार्रवाई करने के लिए ऋणदाता के बदलाव का समय लेना चाहिए। हमें विश्वास करो, यह सबसे अधिक पहलुओं में से एक है, जिसे आपको सर्वश्रेष्ठ गृह ऋण सौदा की तलाश में नहीं भूलना चाहिए। सभी उधारदाताओं समय पर वितरित नहीं कर सकते हैं तो, सावधान रहें

ROI Full Form in Hindi – ROI का फुल फॉर्म क्या है?

ROI Ka Full Form के साथ – साथ रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट से जुड़ी अन्य जानकारी भी देने वाले है, तो चलिए सबसे पहले जानते है की ROI का फुल फॉर्म और ROI Meaning in Hindi क्या होता है?

Table of Contents

ROI Full Form in Hindi

ROI का फुल फॉर्म रिटर्न ऑन इनवेस्टमेंट ( ROI – Return on Investment ) होता है। जिसका मतलब आर्थिक क्षेत्र में निवेश पर लाभ होता है | रिटर्न ऑन इनवेस्टमेंट किस निवेश से कितना प्रतिशत लाभ हो रहा है, उसकी गणना करने का एक तरीका है |

ROI Full Form in HindiReturn on Investment ( रिटर्न ऑन इनवेस्टमेंट )

ROI क्या है?

रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट (ROI) के जरिए हम किसी निवेश के लाभ का मूल्यांकन करते है | और यह जानते है की किस निवेश से कितना प्रतिशत का लाभ हो रहा है या होगा है |

इसके अलावा इसका उपयोग जैसे किसी व्यवसाय में निवेश से होने वाले लाभ तथा किसी अन्य व्यवसाय में निवेश के लाभ के बीच के प्रॉफिट का भी मूल्यांकन कर तुलना के लिए कर सकते है |

ROI का मतलब है?

ROI का पूरा नाम रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट होता है, जिसका मतलब निवेश और आर्थिक क्षेत्र में निवेश से होने वाला लाभ होता है | इसका उपयोग किसी निवेश में होने वाले लाभ के प्रतिशत की गणना करने के लिए किया जाता है |

ROI की गणना कैसे करते हैं?

दोस्तों, ROI यानि रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट की गणना पुरे साल में किसी निवेश से मिलने वाले लाभ को प्रतिशत के रूप में निकाला जाता है | ROI की गणना दो तरीको से किया जाता है, जिसमें – (1). ABSOLUTE RETURN ( पूर्ण वापसी ) और (2). COMPOUND ANNUAL GROWTH RATE ( चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर ) होता है |

ROI Formula in Hindi

[Ending Period Value / Starting Period Value – 1]*100 यह फार्मूला Absolute Return मेथड का है, जिसमें गणना करने पर लाभ को आमतौर पर साधारण लाभ की तरह से निकाला जाता है और इसके अंदर समय को महत्व नहीं दिया जाता है। जिससे इसमें निवेश से मिलने वाले लाभ को प्रतिशत के रूप में दिखा दिया जाता है।

ROI Full Form in Banking

Banking के क्षेत्र में ROI का फुल फॉर्म रेट ऑफ़ इंटरेस्ट ( ROI – Rate of Interest ) होता है। जिसका मतलब ब्याज की दर होता है | ब्याज दर वह राशि है, जो एक ऋणदाता के द्वारा उधारकर्ता से लिया जाता है, जिसे आमतौर पर मूलधन के प्रतिशत के रूप में व्यक्त किया जाता है।

ROI Full Form in BankingRate of Interest

ROI Full Form in Digital Marketing

Digital Marketing में ROI का फुल फॉर्म रिटर्न ऑन इनवेस्टमेंट ( ROI – Return on Investment ) होता है। इसमें उस लाभ की गणना किया जाता है, जो डिजिटल मार्केटिंग Campaign से प्राप्त होता है और अभियान को बनाने और रन करने में कितना खर्च हुआ है |

ROI Full Form in Digital MarketingReturn on Investment

ROI Full Form in Medical

Medical में ROI का फुल फॉर्म रीजन ऑफ़ इंटरेस्ट ( ROI – Region-of-Interest ) होता है।

ROI Full Form in MedicalRegion-of-Interest

Q : ROI Meaning in Hindi.

Ans – ROI का मतलब आर्थिक क्षेत्र में “निवेश पर लाभ” होता है |

Q : ROI Full Form in English.

Ans- Full Form of ROI – Return on Investment.

Q : आरओआई का फुल फॉर्म क्या होता है?

Ans – आरओआई का फुल फॉर्म Return on Investment (रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट) होता है |

Q : ROI का मतलब क्या होता है?

Ans – ROI का मतलब निवेश पर लाभ (Return on Investment) होता है |

तो दोस्तों इस पोस्ट में हमने जाना कि ROI क्या होता है?, ROI का फुल फॉर्म क्या होता है?,ROI Full Form in Hindi क्या होता है? आदि। हमने आपको ROI की पूरी जानकारी देने की कोशिश की है।

उम्मीद करते है इस पोस्ट से आपके सवालों के जवाब मिले होंगे | अगर आपके मन में इस पोस्ट से जुडी कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निचे कमेंट बॉक्स में जरुर लिखें |

Disclaimer – इस वेबसाइट पर उपलब्ध कराई गई जानकारी, उत्पाद और सेवाएं बिना किसी वारंटी या प्रतिनिधित्व, व्यक्त या निहित के “जैसा है” और “जैसा उपलब्ध है” के आधार पर प्रदान की जाती हैं। askfullforms.com शुद्ध रूप से वित्तीय उत्पादों और सेवाओं की शैक्षिक चर्चा के लिए हैं। askfullforms.com इस बात की गारंटी नहीं देता है कि सेवा आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगी, या यह कि यह निर्बाध, समय पर और सुरक्षित होगी, और यह कि त्रुटियाँ, यदि कोई हो, को ठीक किया जाएगा। इसमें संदर्भित सामग्री और जानकारी केवल सामान्य सूचना उद्देश्यों के लिए है। कोई भी कानूनी, वित्तीय या व्यावसायिक निर्णय लेने के लिए जानकारी पर भरोसा करने से पहले किसी पेशेवर से सलाह लें। इस जानकारी का सख्ती से अपने जोखिम पर उपयोग करें। वेबसाइट पर मौजूद किसी भी गलत, गलत या अधूरी जानकारी के लिए askfullforms.com जिम्मेदार नहीं होगा। यद्यपि यह सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास किया जाता है कि इस वेबसाइट में उपलब्ध जानकारी अपडेटेड और उपलब्ध हो, askfullforms.com वेबसाइट या जानकारी, उत्पाद, सेवाओं या संबंधित के संबंध में पूर्णता, विश्वसनीयता, सटीकता, उपयुक्तता या उपलब्धता के बारे में कोई गारंटी नहीं देता है। किसी भी उद्देश्य के लिए वेबसाइट पर निहित ग्राफिक्स। वेबसाइट के अस्थायी रूप से अनुपलब्ध होने के लिए, किसी भी तकनीकी समस्या के कारण या अन्यथा, इसके नियंत्रण से परे और इस वेबसाइट के उपयोग, या उपयोग करने में असमर्थता के परिणामस्वरूप होने वाली किसी भी हानि या क्षति के लिए askfullforms.com उत्तरदायी नहीं होगा। जो भी हो।

Leave a Comment Cancel reply

Recent Posts

  • CBO Full Form in Hindi – CBO का फुल फॉर्म क्या है?
  • SFS Full Form in Hindi – SFS का फुल फॉर्म क्या है?
  • LOP Full Form in Hindi – LOP का आरओआई क्या है? फुल फॉर्म क्या होता है?
  • VLW Full Form in Hindi – VLW का फुल फॉर्म क्या होता है?
  • PTA Full Form in Hindi – PTA का फुल फॉर्म क्या है?
  • ITZ Full Form in Hindi – ITZ का फुल फॉर्म क्या है?
  • CWS Full Form in Hindi – CWS का फुल फॉर्म क्या है?
  • ACM Full Form in Hindi – ACM का फुल फॉर्म क्या है?
  • COP Full Form in Hindi – COP का फुल फॉर्म क्या है?
  • NTG Full Form in Hindi – NTG का फुल फॉर्म क्या है?
  • TDC Full Form in Hindi – TDC का फुल फॉर्म क्या है?
  • CLG Full Form in Hindi – CLG का फुल फॉर्म क्या है?
  • DCS Full Form in Hindi – DCS का फुल फॉर्म क्या है?
  • AIM Full Form in Hindi – AIM का फुल फॉर्म क्या है?
  • PCV Full Form in Hindi – PCV का फुल फॉर्म क्या है?
  • ACR Full Form in Hindi – ACR का फुल फॉर्म क्या है?
  • CHS Full Form in Hindi – CHS का फुल फॉर्म क्या है?
  • DIO Full Form in Hindi – DIO का फुल फॉर्म क्या है?
  • OST Full Form in Hindi – OST का फुल फॉर्म क्या आरओआई क्या है? है?

ASKFULLFORMS

दोस्तों, askfullforms.com एक ऐसा ऑनलाइन वेब पोर्टल है, जहाँ पर हिंदी पाठकों के लिए फुल फॉर्म तथा उसके के बारे में समझने योग्य पूरी जानकारी उपलब्ध कराई जाती है। हमारा मुख्य उद्देश्य हमारे हिंदी पाठकों के लिए किसी भी विषय पर बेहतर समझ को बनाना है, ध्यान रहे - साईट से कोई भी जानकारी का उपयोग करने से पहले उस टॉपिक से जुड़े विभाग की ऑफिसियल साईट पर एक बार जरुर चेक करें, हम साईट पर किसी भी डाटा या लेख का सत प्रतिशत सत्य होने की पुष्टि नहीं करतें |

पर्सनल लोन लेने से पहले जान लें EMI का कैसे होता है कैलकुलेशन, ये फॉर्मूला होता है इस्तेमाल

जब आप पर्सनल लोन (personal loan) लेते हैं, तो मासिक किस्त एक महत्वपूर्ण फैक्टर है. पर्सनल लोन कैलकुलेटर के जरिये पेमेंट का कैलुलेशन करने में आसानी होती है. लोन लेने से पहले अपने लोन और रीपेमेंट की प्लानिंग कर सकते हैं.

अगर आप तय ईएमआई से भी ज्यादा किस्त राशि दे सकते हैं तो ईएमआई पीरियड को कम करा सकते हैं. (pixabay)

वित्तीय सलाहकारों का कहना है कि किसी भी व्यक्ति को पर्सनल लोन (personal loan) लेने का फैसला बिल्कुल आखिरी ऑप्शन के तौर पर करना चाहिए. इसकी वजह है इस पर लगने वाला ज्यादा ब्याज. अगर आपको किसी कारणवश लेना ही पड़े तो इसकी जानकारी जरूर रखनी चाहिए. आप जो पर्सनल लोन लेते हैं उसकी एक ईएमएआई (EMI) बैंक या वित्तीय संस्थान तय कर देता है और आपको चुकानी होती है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस ईएमआई यानी मासिक किस्त EMI का कैलकुलेशन होता है. यहां हम एचडीएफसी बैंक के जरिये इसे समझने की कोशिश करते हैं.

लोन लेने से पहले समझ लें ईएमआई
जब आप पर्सनल लोन (personal loan) लेते हैं, तो मासिक किस्त एक महत्वपूर्ण फैक्टर है. पर्सनल लोन कैलकुलेटर (personal loan calculator के जरिये पेमेंट का कैलुलेशन करने में आसानी होती है. लोन लेने से पहले अपने लोन और रीपेमेंट की प्लानिंग कर सकते हैं.

ऐसे होता है ईएमआई का कैलकुलेशन
एचडीएफसी बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट के मुताबिक, EMI का कैलकुलेशन एक फॉर्मूला का इस्तेमाल कर किया जाता है. यह फॉर्मूला है: P x R x (1+R)^N] / [(1+R)^N-1]
यहां P = मूलधन या आपकी लोन राशि
R = ब्याज दर
N = लोन की अवधि (जितने साल के लिए रीपेमेंट तय होता है)
आपकी ईएमआई में दो मुख्य घटक शामिल हैं- मूलधन और ब्याज. आपके रीपेमेंट पीरियड के शुरुआती भाग में, ब्याज राशि ज्यादा होती है और वह इसके बाद आगे कम होती चली जाती है. रीपेमेंट पीरियड के आखिर में, मूल राशि ईएमआई का एक बड़ा रेशियो बनाती है.

Zee Business Hindi Live TV यहां देखें

पर्सनल लोने मिनिमम डॉक्यूमेंट पर मिल जाता है
पर्सनल लोन के लिए किसी सिक्योरिटी की जरूरत नहीं होती है. इसके आरओआई क्या है? लिए प्रक्रिया बेहद कम डॉक्यूमेंट्स के आधार किया जा सकता है. बाकी लोन की तरह, इस लोने के लिए मासिक किस्तों चुकाना होता है. एचडीएफसी बैंक के पर्सनल लोन ईएमआई कैलकुलेटर से आप भी आप ईएमआई जान सकते हैं. इसके के लिए, सोन अमाउंट, ब्याज दर और लोन पीरियड डालने होते हैं. अब एंटर करने पर आपकी ईएमआई तुरंत शो करेगा. अगर आप तय ईएमआई से भी ज्यादा किस्त राशि दे सकते हैं तो ईएमआई पीरियड को कम करा सकते हैं.

चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर

Axis Myzone Free Credit Card

फिंतरा के चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर के आरओआई क्या है? बारे आरओआई क्या है? में

चक्रवृद्धि ब्याज तब होता है जब समय बीतने के साथ-साथ आप अपने कुल निवेश, मूलधन और ब्याज पर ब्याज प्राप्त करने के साथ-साथ आपकी आय में तेजी से वृद्धि होती है। कंपाउंडिंग संभावनाओं की शक्ति अनंत है क्योंकि निवेश से कमाई करने की क्षमता पैदा होती है। इसके अलावा, चक्रवृद्धि ब्याज समय बीतने के साथ ही कमाई को और बढ़ाता है और आपके निवेश को कई गुना बढ़ने में सक्षम बनाता है।

इस प्रकार, यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप सही आरओआई प्राप्त कर रहे हैं, आपको एक विश्वसनीय चक्रवृद्धि आरओआई क्या है? ब्याज कैलकुलेटर की आवश्यकता होगी। फिंतरा आपके निवेश की वृद्धि को निर्धारित करने में आपकी सहायता करने के लिए एक शीर्ष-लाइन मुक्त चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर प्रदान करता है। इसके अलावा, इस कैलकुलेटर की मदद से, आपके रिटर्न के आधार पर, आप या तो एक निश्चित राशि का पुनर्निवेश करना चुन सकते हैं या नई पूंजी में प्रवाह करने का निर्णय ले सकते हैं।

फिंतरा के चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर का उपयोग कैसे करें?

सटीक परिणाम प्राप्त करने के लिए आपको निम्नलिखित डेटा प्रदान करने की आवश्यकता है:

  1. निवेश राशि
  2. वार्षिक ब्याज दर
  3. समय अवधि (वर्ष)

जब सभी डेटा फिंतरा के चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर में भर दिया गया है, तो "सबमिट करें" पर क्लिक करें, और तुरंत परिणाम प्रदर्शित होंगे।

राशि = P*(1+r/100)^t जहां P मूलधन है, r ब्याज दर है और t निवेश अवधि है।

चक्रवृद्धि ब्याज = राशि - मूलधन

फिंतरा के चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर का उपयोग करने के लाभ

फिंतरा एक मुफ्त और सटीक चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर प्रदान करता है। फिंतरा दैनिक उपयोग के लिए आदर्श है धन्यवाद -

  • उपयोग में आसानी।
  • इसकी विश्वसनीयता और सटीकता।
  • इसकी डेटा सुरक्षा।

चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर के अलावा, आप अन्य कैलकुलेटरों की एक विस्तृत श्रृंखला पाएंगे और उनका उपयोग करने में सक्षम होंगे। फिंतरा के कैलकुलेटरों को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि वे व्यवसाय में सर्वश्रेष्ठ के खिलाफ बेंचमार्क किए गए हैं और रोजमर्रा के उपयोग के लिए आदर्श हैं।

अब ऑनलाइन बैंकिंग के नवोन्मेषी तरीकों से, कुछ ही सेकंड में ऑनलाइन बचत खाता खोलना आसान हो गया है! उदाहरण के लिए, कोटक 811 बचत खाता खोलने के लिए कृपया यहां (क्लिक करें) और एक्सिस बैंक बचत खाता खोलने के लिए कृपया यहां (क्लिक करें)।

चक्रवृद्धि ब्याज के अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर कैसे सहायक हो सकता है?

यह चक्रवृद्धि ब्याज की प्रकृति है जो इसे विभिन्न व्यवसायों के लिए आकर्षक बनाती है। ऑनलाइन चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर का उपयोग करके आप निम्नलिखित लाभ उठा सकते हैं:

  • यह एक निश्चित समय सीमा में सटीक आंकड़े और रिटर्न का प्रतिशत निर्धारित करने में मदद करेगा।
  • भारत में एक विश्वसनीय चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर यह पहचानने में मदद करेगा कि आपको एक समय सीमा में कितना निवेश करना पड़ सकता है। फिर सुविधा के साथ आवश्यक कोष की व्यवस्था की जा सकती है।
  • फिंतरा एक अनुकूलन योग्य चक्रवृद्धि ब्याज दर कैलकुलेटर प्रदान करता है जो आपको आवश्यकताओं के आधार पर मान निर्दिष्ट करने में सहायता करेगा।
  • एक चक्रवृद्धि ब्याज कैलकुलेटर आरओआई क्या है? आपको कुल रिटर्न और वार्षिक रिटर्न की गणना करने में सक्षम बनाता है।

चक्रवृद्धि ब्याज और साधारण ब्याज में क्या अंतर है?

चक्रवृद्धि ब्याज में पहले अर्जित ब्याज के ब्याज के साथ मूलधन पर ब्याज दोनों शामिल हैं। दूसरी ओर, साधारण ब्याज केवल मूलधन पर अर्जित ब्याज को संदर्भित करता है, और ब्याज पर अर्जित ब्याज को ध्यान में नहीं रखा जाता है।

रेटिंग: 4.59
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 573
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *